Close

    श्री धानिक लाल मंडल

    SHRI DHANIK LAL MANDAL
    • Designation: Former Governor
    • Duration: 07/02/1990 to 13/06/1995

    श्री धानिक लाल मंडल का जन्म 30 मार्च 1932 को बिहार के मधुबनी जिले के बेल्हा में हुआ था। वह छात्र कांग्रेस के एक सक्रिय सदस्य थे और भारत छोड़ो आंदोलन में भाग लेने के लिए दरभंगा के जिला स्कूल से निकाल दिए गए थे। आजादी के बाद वे समाजवादी आंदोलन में शामिल हो गए। इलाहाबाद विश्वविद्यालय से अपनी पढ़ाई (एम.ए., एलएलबी) पूरी करने पर वे संस्थापक सदस्य के रूप में सोशलिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (1956) में शामिल हो गए। 1957 में वे बिहार में सोशलिस्ट पार्टी के सचिव बने। 1959 में वे सोशलिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के महासचिव बने। उन्होंने 1962 में समकेत सोशलिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के संयुक्त सचिव के रूप में भी कार्य किया। वह 1967, 1969 और 1972 में तीन बार बिहार विधानसभा के लिए चुने गए। वह 1967 में बिहार विधानसभा के अध्यक्ष थे। उन्होंने 1974 में बिहार विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया और श्री जय प्रकाश नारायण के ‘कुल क्रांति आंदोलन‘ में शामिल हो गए। उन्होंने 1975-76 में राष्ट्रीय आपातकाल लगाने के खिलाफ काम किया। श्री मंडल 1977 में लोकसभा के लिए चुने गए और जनवरी 1980 तक गृह राज्य मंत्री के रूप में कार्य किया। वे 1980 में दूसरी बार लोकसभा के लिए चुने गए। श्री मंडल ने मधुबनी में स्वयंसेवी संगठनों जैसे मधुबनी जिला समग्र विकास संस्थान और शिक्षा समाज न्यास की स्थापना की। उन्होंने हरिजन सेवक संघ, बिहार (1980-84) के अध्यक्ष और भारत के हरिजन सेवक संघ के सदस्य के रूप में कार्य किया। 1992 में उन्हें राष्ट्र के लिए उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए शिरोमणि पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। श्री मंडल ने 7 फरवरी, 1990 से 14 मई, 1995 तक हरियाणा के राज्यपाल के रूप में कार्य किया। उन्हें मई 1993 से जून 1993 तक राजस्थान के राज्यपाल के रूप में अतिरिक्त प्रभार भी मिला। इसके बाद उन्होंने शाहजानपुर से संसदीय चुनाव लड़ा। श्री धानिक लाल मंडल जी का 13 नवंबर 2022 को निधन हो गया