उप-मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चैटाला ने मंगलवार को राजभवन में हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य से मुलाकात कर विभिन्न विषयों पर बातचीत की -09.06.2020

June 10, 2020


उप-मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चैटाला ने मंगलवार को राजभवन में हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य से मुलाकात कर विभिन्न विषयों पर बातचीत की। इस अवसर पर राज्यपाल श्री आर्य ने कोविड-19 संक्रमण से निबटने से संबंधित विभागीय गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की। उन्होनें कहा कि कोरोना संक्रमण के कारण प्रदेश में ही नहीं पूरे देश में औद्योगिक, वाणिज्य व अन्य आर्थिक गतिविधियों को बेहद विकट परिस्थितियों का सामना करना पड़ा है। इससे प्रदेश की आर्थिक व्यवस्था भी प्रभावित हई है। उन्होनें कहा कि इन परिस्थितियों में सभी विभाग अपने स्तर पर होने वाले खर्चों को तर्कसंगत बनाएं ताकि महामारी के खिलाफ जंग में किसी भी तरह से फंड्स आदि की कमी न हो। उन्होनें कोरोना महामारी से बचाव के लिए सरकार द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की। इसके साथ-साथ सरकारी अधिकारियों, कर्मचारियों, सामाजिक धार्मिक संगठनों, स्वयंसेवी संस्थाओं तथा विभिन्न संगठनों के स्वयंसेवकों की भूमिका की भी प्रशंसा की। 
उप-मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चैटाला जिनके पास राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग भी है ने प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण से निबटने की जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में केन्द्र सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों व मापदंडों का शत-प्रतिशत पालन किया जा रहा है।
उन्होनंे कहा कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के मामलों में वृद्धि होना गंभीर बात है। इस समय आमजन को और अधिक जागरूक रहने के जरूरत है। उन्होनें सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हुए हैं कि संबंधित क्षेत्रों में सुनिश्चित करें कि कोई भी व्यक्ति बिना मास्क के बाहर न निकले। इसके साथ-साथ सोशल डिस्टेंसिंग की भी दृढ़ता से पालना करवाई जाए। 
श्री चैटाला ने राज्यपाल श्री आर्य से प्रदेश के विश्वविद्यालयों में अनुसंधान और एकैडमिक गतिविधियों को सुचारू करने पर भी चर्चा की। श्री चैटाला ने कहा कि लाॅकडाउन के दौरान विश्वविद्यालयों के गेंहू, धान और पशुपालन विकास आदि के अनुसंधान में बाधा आई है। इन कार्यों को सुचारू रूप से चलाने के लिए सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों से बात करके रिसर्च वर्क व एकैडमिक गतिविधियों को शुरू करने हेतू कार्य योजना तैयार की जा सकती है ताकि केन्द्र सरकार की तरफ से भविष्य में आने वाले अनलाॅक-2 की गाईडलाईन के तहत इन पर काम किया जा सके। इसके साथ-साथ विभिन्न कक्षाओं के सैमेेस्टर की तिथियों को संशोधित आदि करने पर भी विचार किया जा सकता है। 

कैप्शनः- हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य मंगलवार को राजभवन में उप-मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चैटाला से कोविड-19 संक्रमण के फैलाव को रोकने से संबंधित कार्यों पर चर्चा करते हुए।