सैनी धर्मशाला नारायणगढ़ में आयोजित रक्तदान शिविर और आंखों की जांच के लिए मुफ्त कैम्प का शुभारम्भ -25.12.18

December 27, 2018

चण्डीगढ़ 25 दिसम्बर- हरियाणा के महामहिम राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने आज भारतरत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी के जन्मदिवस (सुशासन दिवस) के अवसर पर सैनी धर्मशाला नारायणगढ़ में आयोजित रक्तदान शिविर और आंखों की जांच के लिए मुफ्त कैम्प का शुभारम्भ किया। इस अवसर राज्यपाल ने महात्मा ज्योतिराव फूले भवन का उद्घाटन भी किया और इस भवन के लिए 10 लाख रूपये की राशि देने की घोषणा भी की। इससे पूर्व उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया। राज्यपाल महोदय ने रक्तदान कैम्प में जाकर रक्तदाताओं का उत्साहवर्धन किया और जिला रैडक्रोस सोसायटी की ओर से रक्तदाताओं को बैज लगाये। उन्होंने नेत्र जांच शिविर का भी दौरा किया और डाक्टरों एवं नेत्र रोगियों से बातचीत की।
    महामहिम राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने इस अवसर पर आयोजित जनसभा को सम्बोंधित करते हुए ओम शान्ति मंत्रोचारण के साथ अपना संदेश शुरू किया। उन्होंने रक्तदान को जीवनदान बताते हुए कहा कि रक्तदान करने से व्यक्ति स्वस्थ रहता है और व्यक्ति को कोई बिमारी नहीं होती है। उन्होंने कहा कि रक्त कहीं प्रयोगशाला या कारखानों में नहीं बनता है यह मात्र मनुष्य के शरीर में ही बनता है। इसलिए प्रत्येक स्वस्थ व्यक्ति को रक्तदान करना चाहिए। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी जी की याद में रक्तदान कैम्प एवं आंखों की जांच कैम्प लगाने के लिए राज्य मंत्री नायब सैनी की सरहाना करते हुए कहा कि इस प्रकार के आयोजनों से समाज में एक बढिया संदेश जाता है। 
    उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने जय जवान जय किसान का नारा दिया था। जिसे आगे बढाते हुए स्व. अटल बिहारी वाजपेयी जी ने जय जवान जय किसान और जय विज्ञान का नारा दिया था। उन्होने कहा कि पोखरण में परमाणु परीक्षण करके अटल जी ने विश्व में भारत का लौहा मनवाया था तथा अमेरिका द्वारा लगाये गये प्रतिबंधों की भी परवाहा नहीं की थी। अटल जी एक अच्छे वक्ता, राजनीतिज्ञ और कवि थे और एक हंसमुख प्रवृति के इन्सान थे। अटल जी की नीतियों एवं योजनाओं को आगे बढाने का काम वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कर रहे है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी सबका साथ सबका विकास के ध्येय के साथ काम कर रहे है, स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत, बेटी-बचाओं बेटी -पढाओं जैसे कार्यक्रमों से समाज में एक अच्छा संदेश गया है। उन्होंने युवा पीढी को देश की रीढ़ बताते हुए कहा कि जब युवा मजबूत होगे जो देश मजबूत होगा। उन्होंने युवाओं से अनुशासन में रहकर माता पिता व गुरूजनो का सम्मान करने का भी संदेश दिया। 
उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में हरियाणा प्रदेश द्वारा की जा रही तरक्की क जिक्र करते हुए कहा कि हरियाणा की बेटियां आज हर क्षेत्र में प्रदेश का नाम रोशन कर रही है और सेना में भी देश की सरहदो की रक्षा करने में भी जुटी हुई हैं हरियाणा आज नम्बर वन हैं।  
इससे पूर्व समारोह में पहुंचने पर राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य को राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने शॉल ओढाकर व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। महामहिम राज्यपाल ने रक्त दाताओं को प्रमाण पत्र भी वितरित किए। 
इस अवसर पर श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी को नमन करते हुए कहा कि वे दूनिया के एक महान नेता थे जिन्होंने देश की मजबूती की नींव रखने का काम किया। उनकी याद में रक्तदान कैम्प एवं नेत्र जांच कैम्प का आयोजन किया गया है। उन्होंने राज्यपाल महोदय का नारायणगढ़ आगमन पर स्वागत करते हुए कहा कि देश का नेतृत्व तो अनेक प्रधानमंत्रियों ने किया है परन्तु देश को जो दिशा पूर्व प्रधानमंत्री आदरणीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने दी थी, उसे सदियों तक याद रखा जाएगा। एक छोटे से स्वयं सेवक के तौर पर काम शुरू करने वाले वाजपेयी जी ने प्रधानमंत्री होते हुए भी हमेशा दूसरों की उन्नति में ही अपनी उन्नति समझी थीेे, जिसके फलस्वरूप आज उन्हेें एक अच्छे शासक के तौर पर जाना जाता है। 
उन्होंने कहा कि विपक्ष में होते हुए भी वाजपेयी जी को पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव ने यूएनओ में भेज कर पाकिस्तान के प्रस्ताव के जवाब में भारत का पक्ष रखने के लिए भेजा था और अटल जी ने वहां हिन्दुस्तान का पक्ष मजबूती से रखा और उस प्रस्ताव को धाराशाही कर दिया। 
उन्होंने कहा कि अटल जी के कार्यकाल में न केवल सडक़ों का जाल बिछाने का काम किया गया बल्कि उन्होंने नदियों के जल पर भी सभी को समान अधिकार देने की वकालत की। उनका मानना था की देश व समाज की उन्नति का मुख्य अवयव केवल दूरदराज के क्षेत्रों को सडक़ मार्ग से जोडऩा है। इसलिए प्रधानमंत्री सडक़ योजना के तहत देश के कोने-कोने को चोडी सडक़े से जोडने का काम किया, जिसके फलस्वरूप आज हम ऐसी सडकों का प्रयोग कर रहे हैं। 
इस अवसर पर सांसद रतन लाल कटारिया ने श्री वाजपेयी जी को नमन करते हुए कहा कि वे एक अजातशत्रु थे जिनका विपक्ष के लोग भी आदार सम्मान करते थे।  श्री कटारिया ने कहा कि वे एक प्रखर राष्ट्र भगत थे जिनका प्रभाव हमारे जीवन पर भी रहा हैं। उन्होंने अपनी कविता के माध्यम से स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी को याद किया। उन्होंने सैनी धर्मशाला के लिए 11 लाख रूपये देने की घोषणा की। 
इस अवसर पर लाडवा के विधायक डा. पवन सैनी ने अटल बिहारी वाजपेयी जी को याद करते हुए कहा कि ऐसी विभूति के जन्म दिन पर रक्तदान शिविर का आयोजन करना एक महान कार्य है। रक्तदान, त्याग एवं सम्पर्ण का परिचायक है, जोकि लोगों को एकता के सूत्र में बांधने में सहयोग करता है। 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में देश एवं प्रदेश का चहुंमुखी विकास हो रहा हैं। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में हरियाणा विकास के मामले में नम्बर वन बन गया हैं। उन्होंने कहा कि 2019 में प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में केन्द्र में तथा हरियाणा में भाजपा की सरकार बनेगी।
इस अवसर पर भाजपा जिला प्रधान जगमोहन कुमार लाल ने मंच संचालन किया। समारोह में राज्यपाल के सचिव विजय सिंह दहिया, अम्बाला शहर के विधायक असीम गोयल, जिला परिषद चेयरमैन सुरेन्द्र राणा, एसपी अम्बाला आस्था मोदी, एडीसी कैप्टन शक्ति सिंह, एसडीएम अदिति, एसडीएम अम्बाला कैन्ट सुभाषचन्द्र सिहाग, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष बन्तो कटारिया, राज्यमंत्री की धर्मपत्नी सुमन सैनी, राजनैतिक सचिव सोहन सिंह, जिला महामंत्री राजेश बतौरा, जिला परिषद सदस्य जिया लाल सैनी, दीदार सिंह, सतीश धीमान, मण्डल प्रधान नारायणगढ नवीन शर्मा, शहजादपुर मण्डल प्रधान विवेक गुप्ता, मारकण्डा मण्डल प्रधान नरेन्द्र राणा कुराली, सैनी सभा के प्रधान मा० केहर सिंह सैनी, पार्षद मन्जु बाला, जगदीप कौर, पूर्व पार्षद अनिता चैधरी, पंचायत समिति चेयरमैन शहजादपुर गुरनाम सिंह, बांका सैनी, शिवालिक बोर्ड के सदस्य अश्वनी अग्रवाल, श्रम कल्याण बोर्ड के अशोक साहनी, मुकेश गर्ग, भुषण अग्रवाल सहित काफी संख्या में पार्टी पदाधिकारी व गणमान्य लोग मौजूद रहे। 
रक्तदान कैम्प में लगभग 250 लोगों ने रक्दान किया व नेत्रजांच कैम्प में लगभग 823 ओपीडी हुई जिनमें से 248 नेत्र रोगियो को चश्में वितरित किये गए और 453 रोगियों को नेत्र रोग की दवाईयां दी गई और जांच उपरान्त 53 नेत्र रोगी आप्रेशन योग्य पाए गए।