रेडबिशप में ऑल इंडिया महिला 20-20 क्रिकेट एसोसिएशन -20.05.2018

May 21, 2018

पंचकूला, 20 मई- हरियाणा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने आज सेक्टर-1 स्थित रेडबिशप में ऑल इंडिया महिला 20-20 क्रिकेट एसोसिएशन द्वारा 21 से 24 मई तक क्रिकेट स्टेडियम पंचकूला में प्रथम अंतर्राष्ट्रीय महिला क्रिकेट 20-20 क्रिकेट चैंपियनशिप फॉर शहीद भगतसिंह ट्राफी व टूर्नामैंट पोस्टर का अनावरण किया।

इस अवसर पर कार्यक्रम में अंबाला लोकसभा सांसद रतनलाल कटारिया, पंचकूला विधायक एवं मुख्य सचेतक ज्ञानचंद गुप्ता, कालका विधायक लतिका शर्मा, पंचकूला उपायुक्त मुुकुल कुमार, जिला पुलिस उपायुक्त राजेंद्र कुमार मीणा, एसडीएम पंकज सेतिया, ऑल इंडिया महिला 20-20 एसोसिएशन की प्रधान वसुधा राणा व महासचिव पियूष राणा, क्रिकेट फैडरेशन ऑफ इंडिया के महासचिव अमरजीत कुमार, सुरेंद्र गोयल, हरेंद्र मलिक भी उपस्थित रहे।

कार्यक्रम में राज्यपाल ने कहा कि हरियाणा का राज्यपाल होते हुए मैं सबसे पहले देश व विदेशों से आने वाली महिला क्रिकेट टीम की बेटियों का हार्दिक अभिनंदन करता हूं। इसके साथ-साथ उन्होंने हरियाणा महिला क्रिकेट एसोसिएशन को भी विशेषतौर पर बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उनके प्रयासों से पहली बार हरियाणा में अंतर्राष्ट्रीय महिला क्रिकेट 20-20 की चैंपियनशिप का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व एसोसिएशन द्वारा लडक़ों की यह चैंपियनशिप गत 11 साल से आयोजित करवाई जा रही है। एसोसिएशन ने महिला क्रिकेट आयोजित कर एक अच्छा प्रयास किया है, इससे बेटियों को आगे बढऩे की प्रेरणा मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी हरियाणा की धरती पानीपत से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की शुरूआत की थी और हरियाणा सरकार ने इसे आगे बढ़ाते हुए इस दिशा में बेहतर कार्य किया है और अब इसके अच्छे परिणाम भी सामने आ रहे है। लड़कियां स्कूल, कॉलेज, आईएस की परीक्षा हो या खेल गतिविधियां हो सबमें अग्रणीय स्थान प्राप्त कर रही है। हरियाणा क्रिकेट एसोसिएशन की स्थापना 2008 में हुई थी और तब से अब तक लडक़ों की राष्ट्रीय स्तर की 30 व अंतर्राष्ट्रीय स्तर की 12 प्रतियोगिताएं आयोजित करवाई है। पहली बार हरियाणा में अंतर्राष्ट्रीय महिला क्रिकेट चैंपियनशिप करवाई जा रही है।

उन्होंने कहा कि खेल भावना से ही शांति का संदेश जाता है। उन्होंने आईपीएल क्रिकेट के बारे में बोलते हुए कहा कि आईपीएल में एक टीम में विभिन्न देशों के खिलाड़ी शामिल होते है लेकिन जब वे खेलते है तो प्रतीत नहीं होता कि वे किस देश के खिलाड़ी है क्योंकि वे खेल भावना से खेलते है और उनमें खेल भावना का समावेश होता है। यहीं भावना शांति का संदेश देने की दिशा में अहम भूमिका निभाती है। खेल ही एक ऐसा माध्यम है जोकि शांति का संदेश पंहुचाने में अहम भूमिका निभाता है। उन्होंने कहा कि भारत वैसे भी शांति का संदेश देने में अग्रणीय है क्योंकि भारत ने पहले कभी किसी पर आक्रमण नहीं किया और न ही आक्रमण जीत कर उसे अपने में शामिल किया। उन्होंने बंगलादेश का उदाहरण देते हुए कहा कि बंगला देश को भारत ने आजाद करवाया लेकिन उसे अपने में शामिल नहीं किया। विश्व शांति के लिए खेल बहुत जरूरी है। इसी से ही आपसी भाईचारे की भावना पनपती है और विश्व में शांति का संदेश खेलों के माध्यम से ही स्थापित होता है। 

इस अवसर पर अंबाला लोकसभा सांसद रतनलाल कटारिया, पंचकूला विधायक एवं मुख्य सचेतक ज्ञानचंद गुप्ता व कालका की विधायक लतिका शर्मा ने कार्यक्रम में हरियाणा क्रिकेट एसोसिएशन को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उनके प्रयासों से पहली बार प्रथम अंतर्राष्ट्रीय महिला क्रिकेट 20-20 क्रिकेट चैंपियनशिप फॉर शहीद भगत सिंह चैंपियनशिप का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस महिला चैंपियनशिप का नाम शहीद के नाम पर रखा गया है। इससे भी हमारी युवा पीढ़ी को ज्ञानवद्र्धक प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने कहा कि कॉमनवेल्थ खेलों में भी हरियाणा के खिलाडिय़ों के मैडलों की संख्या सबसे अधिक थी। साक्षी मलिक ने देश में ही नहीं अपितु हरियाणा का नाम विश्व स्तर पर रोशन किया है। हरियाणा सरकार ने खिलाडिय़ों को नई खेल नीति के तहत अनेकों सुविधाएं व नकद ईनाम देने की दिशा में एक बेहतर मंच प्रदान किया है, जिससे प्रदेश के खिलाडिय़ों का रूझान खेलों की प्रति बढ़ता जा रहा है और पदक तालिका में भी बढ़ौतरी हो रही है। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि यह चैंपियनशिप अवश्य ही सफल होगी और भविष्य में भी इस प्रकार की महिला चैंपियनशिप एसोसिएशन आयोजित करवाती रहेगी। 

इस अवसर पर क्रिकेट फैडरेशन के महासचिव अमरजीत कुमार ने बताया कि 21 से 24 मई तक 31वीं ऑल इंडिया अंडर-15 लडक़ों की क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन भी करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रथम महिला क्रिकेट चैंपियनशिप व लडक़ों की अंडर-15 में भाग लेने वाली सभी राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय टीमों के रहने व खाने पीने व लोकल ट्रांसपोर्टेंशन की उचित व्यवस्था फैडरेशन द्वारा की गई है। फैडरेशन की ओर से विजेता और उप विजेता टीमों को ट्रॉफी दी जाएगी। साथ ही क्रिकेट फैडरेशन की ओर से खिलाडिय़ों को एसएस क्रिकेट किट्स, मैन ऑफ दा मैच, बैस्ट बैट्समैन, बैस्ट बॉलर, बैस्ट ऑलराऊंडर एवं अपकमिंग खिलाडिय़ों का खिताब दिया जाएगा। 

इस मौके पर राज्यपाल ने फैडरेशन की गतिविधियों में सराहनीय योगदान देने पर सहायक शिक्षा अधिकारी जयपाल सिंह, ब्रिटीश स्कूल के निदेशक गतिका सेठी, चंडीगढ क्रिकेट स्टेडियम के कोच हरीश शर्मा, हरियाणा के पूर्व क्रिकेटर सुभाष शर्मा को भी सम्मानित किया। इसके साथ साथ राज्यपाल ने श्रीलंका क्रिकेट टीम की कप्तान पेशला राणा हांसी, नेपाल क्रिकेट टीम की कप्तान रूबिना श्रेली, बंगलादेश क्रिकेट टीम की कप्तान सथिरा जॉकीजैसी व भारत क्रिकेट टीम की कप्तान बुशरा अशरफ से परिचय भी किया। 

210205

20052018

2105