राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि स्वैच्छिक रक्तदान के लिए आगे आएं और उन लोगों को भी रक्तदान के लिए प्रोत्साहित करें, जिन्होनें पहले रक्तदान न किया हो-13.06.2019

June 14, 2019

चंडीगढ़, 13 जून- हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि स्वैच्छिक रक्तदान के लिए आगे आएं और उन लोगों को भी रक्तदान के लिए प्रोत्साहित करें, जिन्होनें पहले रक्तदान न किया हो। श्री आर्य ने विश्व रक्तदाता दिवस से पूर्व आज प्रदेशवासियों के नाम संदेश में कहा है कि 14 जून का दिन पूरे विश्व में विश्व रक्तदाता दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिवस नोबेल पुरस्कार विजेता डा0 लार्ड काॅर्ल लेंडस्टेनर के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। लेंडस्टेनर जिन्होनें ए, बी और ओ जैसे रक्त समूहों का आविष्कार कर मानवता की सेवा के लिए अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है। 
श्री आर्य ने उन सभी स्वैच्छिक रक्तदाताओं का आभार भी प्रकट किया है, जिन्होनें निरंतर रक्तदान के क्षेत्र में अपना योगदान दिया है। इसके साथ-साथ उन्होनें कहा है कि जिन व्यक्तियों ने अभी तक रक्तदान नही किया है वे भी स्वैच्छिक रक्तदान के लिए आगे आएं ताकि रक्त की जरूरत वाले व्यक्ति की समय रहते जान बचाई जा सके।
उन्होनें कहा कि इस वर्ष विश्व रक्तदाता दिवस का स्लोगन "Safe Blood for all " (सभी के लिए सुरक्षित रक्त) है। रक्त सुरक्षित तभी हो सकता है जब सभी लोग स्वैच्छिक रक्तदान करें। रक्तदाता दिवस के स्लोगन को ध्यान में रखते हुए इस वर्ष रक्तदान के अभियान का मुख्य केन्द्र बिन्दु अधिक से अधिक रक्तदान और सुरक्षित रक्तदान है। सुरक्षित रक्त हमें स्वैच्छिक रक्तदान के माध्यम से ही प्राप्त हो सकता है। हमें रक्त के व्यावसायीकरण को रोकने के लिए जागरूकता अभियान चलाना होगा तथा यह सुनिश्चित करना होगा कि रक्त का स्त्रोत केवल स्वैच्छिक रक्तदान से ही हो।