मीडिया प्रचार-प्रसार का एक सशक्त माध्यम है-राज्यपाल 22.11.2018

November 24, 2018

चण्डीगढ़ 22 नवम्बर - मीडिया प्रचार-प्रसार का एक सशक्त माध्यम है। इसलिए प्रशासनिक अमले को चाहिए कि वे सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों के प्रचार-प्रसार करने में मीडिया केे विभिन्न माध्यमों का भरपूर उपयोग करें। यह बात हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने आज सूचना, जन संपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक श्री समीर पाल सरो से बातचीत में कही। 

उन्होंने कहा कि सरकार की जन कल्याणकारी नीतियों का ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार हो, ताकि हर जरूरतमंद आदमी उन नीतियों का लाभ उठा सके। सरकार की नीतियां और कार्यक्रम तभी सार्थक होगें जब लोगों को प्रत्यक्ष रूप से इनका लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि मीडिया के इस दौर में पांरपरिक मीडिया माध्यमों के साथ-साथ सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों का प्रयोग किया जाए।

श्री आर्य ने कहा कि प्रचार को और ज्यादा प्रभावी बनाने के लिए सामाजिक अभियानों का रूप दंे, जिससे विभिन्न क्षेत्रों में काम कर रही समाज सेवी व स्वयं सेवी संस्थाएं भी जुड़ेगी। प्रचार के लिए मीडिया के पांरपरिक माध्यमों को भी नया स्वरूप देकर प्रचार-प्रसार कार्य में नवीतम तकनीक लाए जाने की आवश्यकता है, हालांकि आज इलैक्ट्रोनिक और सोशल मीडिया का दौर है फिर भी पांरपरिक मीडिया को नकारा नही जा सकता। 

महानिदेशक श्री समीर पाल सरो ने सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि प्रभावी प्रचार-प्रसार के चलते निरंतर लाभान्वित लोगों की संख्या में ईजाफा हो रहा है। आयुष्मान भारत योजना का उदाहरण देते हुए कहा कि हरियाणा  पहला ऐसा राज्य है जहां जनसंख्या अनुपात के आधार पर इस योजना के तहत सबसे अधिक लोगों ने लाभ उठाया हैं इसी प्रकार से अनेक विभागीय योजनाओं में भी हरियाणा अव्वल है।

उन्होंने कहा कि सरकारी योजनाअेां के प्रचार-प्रसार के सकारात्मक परिणाम सामने आए है जिसकी बदौलत हरियाणा देश में सबसे पहले ‘‘खुले में शौच-मुक्त‘‘ राज्य बना। ईज आफ डुईंग बिजनेस में राज्य तीसरे नंबर पर आया है। हरियाणा देश का पहला केरोसिन फ्री राज्य बना है। इस प्रकार से जी.एस.टी. कर संग्रहण में भी राज्य पांचवें स्थान पर पहुचां है। 

श्री सरो ने बताया कि विभाग द्वारा सरकार की नीतियों और योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए विभिन्न माध्यमों का सहारा लिया जा रहा है, जिनमें फाॅक मीडिया, प्रिंट मीडिया, इलैक्ट्रोनिक मीडिया के साथ-साथ सोशल मीडिया का भरपूर प्रयोग किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि समय-समय पर प्रचार अमले द्वारा विशेष प्रचार अभियान भी चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि विभाग की आधा दर्जन से भी अधिक विभिन्न शाखाओं को प्रचार-प्रसार की जिम्मेवारी दी गई है। प्रभावी प्रचार-प्रसार की बदौलत प्रदेश में बेटी बचाओ बेटी पढाओं अभियान और फसल अवशेष प्रबंधन योजना में बेहतर कार्य हुआ है। बेटी बचाओ बेटी पढाओं अभियान के चलते आज हरियाणा में बेटियों की संख्या 931 हुई है, जबकि 2014 मंे मात्र 874 थी, इसी प्रकार से फसल अवशेष प्रबंधन योजना के प्रभावी प्रचार-प्रसार से अवशेष जलाने के मामलों मे जबरदस्त कमी आई है। उन्होंने आशवासन दिया कि विभागीय अमला और ज्यादा उत्साह से सरकारी योजनाओं का प्रचार-प्रसार करेगा, जिससे सरकार की योजनओें का लोगों को ज्यादा से ज्यादा लाभ होगा। पूर्वनिर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आज भारतीय जनता पार्टी के प्रधान श्री सुभाष बराला और गुरू जम्भेश्वर, युनिवर्सिटी, हिसार के कुलपति प्रो0 टकेश्वर कुमार ने राज्यपाल श्री आर्य से मुलाकात की।

 

कैप्शन- सूचना, जन संपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक श्री समीर पाल सरो, हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य से मुलाकात करते हुए।