राजभवन में लेखक राजेन्द्र मोहन वालिया के कहानी संग्रह ‘अमानत’ और डाॅ0 धर्मदेव विद्यार्थी द्वारा लिखित पुस्तक ‘छोटे बच्चे बड़े बलिदान’ का विमोचन -07.06.2018

June 08, 2018

 

चण्डीगढ 7 जून - हरियाणा के राज्यपाल प्रो0 कप्तान सिंह सोलंकी ने राजभवन में लेखक राजेन्द्र मोहन वालिया के कहानी संग्रह ‘अमानत’ और डाॅ0 धर्मदेव विद्यार्थी द्वारा लिखित पुस्तक ‘छोटे बच्चे बड़े बलिदान’ का विमोचन किया।

इस अवसर पर राज्यपाल ने लेखकों को बधाई देते हुए उनके इस लेखन और भविष्य में किए जाने वाले प्रयासों की सफलता की कामना की। उन्होंने साहित्य सृजन के लिए लेखकों की सराहना करते हुए कहा कि साहित्य लोगों को संवेदनशील व दयालु बनाने का सबसे बड़ा साधन है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि उनकी लेखनी से आगे भी ऐसी रचनाएं निकलेंगी जो समाज की सच्ची धरोहर साबित हांेगी। 

राजेन्द्र मोहन वालिया ने कहानी संग्रह ‘अमानत’ में जीवन के विभिन्न घटनाक्रमों और पारिवारिक व सामाजिक रिश्तों का यथार्थवादी चित्रण किया है। आपसी सम्बन्धों के अनेक कटु अनुभवों का वर्णन करते हुए भी ये कहानियां कुछ आदर्श व अच्छा करने की प्रेरणा देती हैं।

‘छोटे बच्चे बड़े बलिदान’ पुस्तक में लेखक डाॅ0 धर्मदेव विद्यार्थी ने वीर बालकों व बालिकाओं के वीरता, देशभक्ति, ईमानदारी, धर्मनिष्ठा, साहस आदि गुणों से युक्त प्रसंगों का संकलन किया है। अधिकांश प्रसंग भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रेजी शासन के विरूद्ध लड़ते हुए अपने प्राणों की आहुति देने वाले बालकों के जीवन के हैं। ऐसे बच्चों के जीवन के बारे में पढकर बच्चों को ही नहीं बड़ों को भी देशभक्ति व ईमानदारी की प्रेरणा मिलेगी।