भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस के 42 प्रशिक्षु अधिकारियों (सहायक कमांडेंट) ने सोमवार को राजभवन में हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य से शिष्टाचार भेंट की 15.03.2021

March 16, 2021

चण्डीगढ़ 15 मार्च:- भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस के 42 प्रशिक्षु अधिकारियों (सहायक कमांडेंट) ने सोमवार को राजभवन में हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य से शिष्टाचार भेंट की। ये प्रशिक्षु अधिकारी भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस, पंचकूला के महानिरीक्षक श्री पी.एस पावटा के नेतृत्व में हरियाणा राजभवन पहुंचे। इनके साथ कमांडेंट विक्रांत भी थे। 
राज्यपाल श्री आर्य ने सभी अधिकारियों को शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की और कहा कि आप सभी देश सेवा के जज्बे को आत्मसात कर देश की सीमाओं की रक्षा के लिए तैयार हों। उन्होंने कहा कि सैन्य और अर्ध सेना बल के अधिकारियों, कर्मचारियों व सैनिकों में अनुशासन और कत्र्तव्य परायणता से ही देश सेवा की भावना प्रबल होती है। इस लिए सभी अधिकारी देश सेवा की भावना से ओतप्रोत रहें, जिससे देश पूरी तरह सुरक्षित होगा। 

श्री आर्य ने भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस वरिष्ठ अधिकारियों से भी कहा कि वे इन प्रशिक्षु अधिकारियों के प्रशिक्षण में किसी तरह की कमी न रहने दे। सीमा रक्षा व आंतरिक सुरक्षा से संबंधित सभी कुशलताओं में पारंगत होकर ही यह अधिकारी और अधिक समर्पित भावना से देश सेवा में जुटेगें।

उन्होंने कहा कि भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस के अधिकारियों का देश की सीमाओं व देश की आंतरिक सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने में महत्वपूर्ण योगदान होता है। विकट परिस्थितियों में सही सूचनाओं के आधार पर कार्य करने से अधिकारियों की कार्य कुशलता परखी जाती है। अधिकारियों को चाहिए कि वे पूरी लग्न व मेहनत के साथ सुरक्षा के हर दृष्टिकोण को जीवन में उतारें ताकि समय आने पर उचित निर्णय लिए जा सकें।

राज्यपाल श्री आर्य ने महिला अधिकारी को विशेष रूप से बधाई देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की महिला सशक्तीकरण की नीतियों की बदोलत आज महिलाएं हर क्षेत्र में परचम फहरा रही है। इससे देश की समृद्धि और उन्नति प्रदर्शित होती है। आज की शिष्टाचार भेंट में महिला अधिकारी भी शामिल थी।

कैप्शनः- हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य सोमवार को राजभवन में भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस के प्रशिक्षु अधिकारियों (सहायक कमांडेंट) के साथ समूह चित्र में ।